Wednesday, May 5, 2010

अकबर इलाहाबादी


आपका मूल नाम सैयद हुसैन था। उनका जन्म 16 नवंबर, 1846 में इलाहाबाद में हुआ था। अकबर इलाहाबादी विद्रोही स्वभाव के थे। वे रूढ़िवादिता एवं धार्मिक ढोंग के सख्त खिलाफ थे और अपने शेरों में ऐसी प्रवृत्तियों पर तीखा व्यंग्य (तंज) करते थे। उन्होंने 1857 का पहला स्वतंत्रता संग्राम देखा था और फिर गांधीजी के नेतृत्व में छिड़े स्वाधीनता आंदोलन के भी गवाह रहे। उनका असली नाम सैयद हुसैन था। अकबर कॆ उस्ताद् का नाम वहीद था जॊ आतिश कॆ शागिऱ्द् थॆ वह अदालत में एक छोटे मुलाजिम थे, लेकिन बाद में कानून का अच्छा ज्ञान प्राप्त किया और सेशन जज के रूप में रिटायर हुए। इलाहाबाद में ही 9 सितंबर, 1921 को उनकी मृत्यु हो गई।

1 comment:

वीनस केशरी said...

एक बात और है अकबर इलाहाबादी जी के बारे में कि वो नई पीढ़ी के के नए चलन से बहुत नाराज थे

और अपनी शायरी में उन्होंने इंग्लिश शब्द का इस्तेमाल बहुत किया है

उनकी गजल बिलकुल आम बात चीत के रूप में होती थी

वो ट्रेन और फोन के भी खिलाफ थे :)

Popular Posts