Showing posts with label आज का विचार. Show all posts
Showing posts with label आज का विचार. Show all posts

Wednesday, December 21, 2016

आज का विचार

हिंदी उन सभी गुणों से अलंकृत है जिनके बल पर वह विश्व की साहित्यिक भाषाओं की अगली श्रेणी में सभासीन हो सकती है।

 - मैथिलीशरण गुप्त।


Popular Posts