सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

फैज अहमद फैज लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

नज़्म : वो लोग बहुत खुशकिस्‍मत

वो लोग बहुत खुशकिस्‍मत थे जो इश्‍क को काम समझते थे या काम से आशिकी रखते थे हम जीते जी नाकाम रहे ना इश्‍क किया ना काम किया काम इश्‍क में आड़े आता रहा और इश्‍क से काम उलझता रहा फिर आखिर तंग आकर हमने दोनों को अधूरा छोड़ दिया शायर: फैज अहमद फैज